Wednesday, January 7, 2015

Feb 2015 rashifal

http://www.bagulamukhijyotishtantra.com

मेष राशि -  व्यर्थ की दौड़ धूप और खर्च अधिक होंगे . कठिनाई से आय के साधन बनेंगे .बनते कामों में अड़चन पैदा हो सकती है..

वृष राशि - निकट संबधियों से मन मुटाव हो सकता है. कामों में विघ्न आ सकते है. परिश्रम के बाद निर्वाह योग्य साधन बनेंगे.
                दुर्गा पाठ करें . 

मिथुन राशि -  खर्च अधिक और व्यवसाय में बाधाओं का सामना करना पड़ेगा . पारिवारिक समस्याएं मानसिक तनाव पैदा कर                      सकती है. श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें.

कर्क राशि - बनते कामों में विघ्न आ सकते है.धन लाभ कम और खर्च अधिक होंगे. किन्तु माह के मध्य से लाभ और उन्नति के                  साधन मिल सकते है.

सिंह राशि - मानसिक तनाव, खर्च अधिक और बनते कामों में अड़चन पैदा हो सकती है. माह के मध्य से मान सम्मान में वृद्धि                    तथा धन लाभ की सम्भावना है.

कन्या राशि - निर्वाह योग्य आय के साधन बनेंगे . कुछ मानसिक तनाव और उलझने भी हो सकती है. स्वास्थ्य का ध्यान रखे                       और क्रोध से बचें . 

तुला राशि लाभ और उन्नति के अवसर मिलेंगे. नया वाहन भी घर में आने की सम्भावना बन सकती है. मानसिक तनाव और 
                 आकस्मिक खर्च भी इस समय हो सकता है. चोट दुर्घटना का भी भय है अतः सावधानी रखें.

वृश्चिक राशि - शनि की साढ़े साती के कारण घर परिवार सम्बन्धी चिंताएं हो सकती हैं. फिर भी निर्वाह योग्य आय के साधन                           बनते रहेंगे. धर्म कर्म की ओर प्रवृत्ति रहेगी. 

धनु राशि - धर्म कर्म की ओर रुझान रहेगा . विघ्न बाधाओं के कारण श्रम अधिक करना पड़ेगा. निर्वाह योग्य आय के                                साधन बनते रहेंगे .

मकर राशि पारिवारिक समस्याएं, मानसिक तनाव और उलझने हो सकती है.आय कम और खर्च अधिक रहेगा. शनि स्त्रोत का                    पाठ करना अच्छा रहेगा, 

कुम्भ राशि - कठिनाइयों के उपरान्त केवल निर्वाह योग्य आय की प्राप्ति होगी. मानसिक तनाव, खर्च अधिक रहेगा. पारिवारिक                     उलझनें समस्या में वृद्धि कर सकती है. 

मीन राशि -  आय के साधन में वृद्धि और योजनाओं में सफलता मिलेगी. बिगड़े काम बनेगे.  स्वास्थ्य संबंधी परेशानियाँ हो                          सकती है. खर्चों में विशेष तेजी रहेगी. श्री दुर्गा सप्तशती का पाठ लाभदायक रहेगा.